गोपनीयता नीति 1xBet India

गोपनीयता नीति पूरी तरह से बेटिंग करने वालों के हितों को दर्शाती है। यहां पर 1xBet India के सभी यूज़र्स को इस बारे में जानकारी मिलेगी कि हम अपने यूज़र्स को इतनी उच्च स्तर की सुरक्षा कैसे प्रदान करते हैं। इस विवरण पढ़कर आप इस विषय पर पूरी तरह से जानकारी पा सकते हैं। वैसे, हमारे सभी कार्यों को माल्टा गेमिंग आयोग द्वारा पूरी तरह से नियंत्रित किया जाता है।

1xbet is a reliable bookmaker, which protects payments and all personal data of its customers

बेट लगाने वाले लोगों का डेटा

प्रत्येक यूज़र्स की पहचान के लिए ग्राहकों द्वारा दिए गए व्यक्तिगत डेटा को हम गोपनीयता नीति सेक्शन में व्यक्तिगत जानकारी कहते हैं।

हम आप के द्वारा दी गई व्यक्तिगत जानकारी के आधार पर आपकी पहचान करते हैं। यदि आप 1xBet बुकमेकर के साथ जुड़ना चाहते हैं तो आपको व्यक्तिगत जानकारी देनी आवश्यक होती है।

हम क्या जानना चाहते हैं?

1xBet गैंबलिंग प्लेटफॉर्म आपसे केवल व्यक्तिगत जानकारी इकट्ठा करता है, जो सभी फंक्शन के कार्यान्वयन के लिए आवश्यक है। हमें आपके बारे में जितना जानना चाहिए, उतना ही पूछते हैं।

बेट लगाने वाले लोगों के बारे में व्यक्तिगत जानकारी का क्या अर्थ है? इसके सिर्फ 4 बिंदु हैं:

आप हमें ऊपर बताई गई जानकारी प्रदान करते हैं और हम इसे एक विशेष एन्क्रिप्टेड प्रारूप में एक कुंजी के साथ रखते हैं, जिसे केवल आप ही जान सकते हैं। यह गारंटी है कि आपके अलावा कोई भी इस जानकारी तक नहीं पहुंच सकता है। 1xBet में अलग-अलग प्रकार के ट्रांसफर के लिए आपको एक पासवर्ड दर्ज करना होता है जिसके बारे में सिर्फ आप ही जानते हैं। 1xBet प्लेटफ़ॉर्म क्लाइंट और सर्वर के बीच सभी डेटा ट्रैफ़िक को एन्क्रिप्ट करता है। यह एन्क्रिप्शन प्रोग्राम एसएसएल प्रोटोकॉल पर आधारित है।

अगर बुकमेकर के काम में अचानक कोई खराबी आ जाती है, तो हमारे प्लेटफॉर्म में एक साथ कई अतिरिक्त सर्वर भी होते हैं। इसीलिए यहां प्रोग्राम बंद होने का जोखिम बिल्कुल कम होता है।

जानकारी सुरक्षित रखी जाती है

यदि आप हमारे प्लेटफॉर्म पर बेट लगाते हैं, तो ध्यान रखें: आपके द्वारा दर्ज की गई जानकारी एक सॉफ़्टवेयर कुंजी का उपयोग करके एन्क्रिप्ट की गई है, जिसके बारे में सिर्फ आपको मालूम रहता है। किसी भी हाल में आपका डेटाबेस तृतीय पक्ष तक नहीं पहुंच पाएगा।

यह एक अलग इंटरनल नेटवर्क से जुड़ा है और यह दूसरे यूज़र्स के लिए उपलब्ध बाहरी सर्वर के तरह मुख्यलाइन पर नहीं है। जब लेन-देन के लिए जानकारी की आवश्यकता होती है, तो यूजर को पासवर्ड दर्ज करना पड़ता है (जिसका उपयोग जानकारी को डिक्रिप्ट करने के लिए किया जाता है); तब बाहरी सर्वर लेनदेन करने के लिए एक विशेष संचार मॉड्यूल को निर्देश भेजता है और उसे पासवर्ड प्रदान करता है।

इंटरफ़ेस मॉड्यूल इंटरनल डेटाबेस तक पहुँचने का एकमात्र साधन है, वह निर्देश को डेटाबेस तक पहुंचाने का काम करता है। यह बेट लगाने वाले व्यक्ति द्वारा दर्ज किए गए पासवर्ड का उपयोग आवश्यक जानकारी को डिक्रिप्ट करने और लेन-देन करने के लिए करता है।

आपको यह प्रक्रिया काफी जटिल और अनावश्यक लग सकती है लेकिन इसे बाहरी दुनिया से जुड़े वातावरण में संग्रहित किसी भी गोपनीय जानकारी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए लांच किया गया था। इसका मतलब यह है कि भले ही 1xBet के सर्वरों में से कोई एक सर्वर हैक हो गया हो, लेकिन हैकर को आपके डेटा तक कभी भी नहीं पहुंच सकता है। इसके अलावा, कुंजी के साथ एन्क्रिप्शन के चलते आंतरिक धोखाधड़ी की संभावना भी बहुत ही कम हो जाती है, क्योंकि इसके बारे में सिर्फ क्लाइंट को ही जानकारी होती है।

कोई भी डेटा जैसे कि अकाउंट बैलेंस और लेनदेन, इत्यादि का लीक होना अधिक नुकसान का कारण बन सकता है, इसीलिए 1xBet के पास इससे निपटने की भी महत्वपूर्ण जानकारी है, । इस जोखिम को समाप्त करने के लिए हम दो प्रणालियाँ लागू करते हैं:

  1. सभी डेटा का दैनिक बैकअप,
  2. किसी भी प्रकार की सिस्टम विफलता के बाद डेटा रिकवरी विकल्प को सक्षम करने की सुविधा।

आप 1xBet India वेबसाइट पर अपना डेटा कैसे दर्ज करते हैं?

1xBet वेबसाइट पर व्यक्तिगत जानकारी बहुत आसानी से दर्ज की जा सकती है। अकाउंट रजिस्टर करते, खोलते और उसका रख-रखाव रखते समय हमारे यूज़र्स साइट पर अपने बारे में उपयुक्त जानकारी प्रदान करते हैं।

यहां पर आपको “कुकीज़” भी मिलेगा। उनका उपयोग पासवर्ड दोबारा दर्ज किए बिना 1xBet वेबसाइट चलाने के लिए किया जाता है। हमारे यूज़र्स जिन वेब पेज को अधिक खोलते हैं, हमारा वेब सर्वर उन पेजों के बारे में जानकारी प्रदान करेगा।

यहां पर कुछ ऐसे भी बिंदु हैं, जहां आप इच्छानुसार अपने बारे में जानकारी दे या नहीं दे सकते हैं। इसलिए यदि संभव हो तो हमारी सेवा की गोपनीयता नीति आपको कुछ व्यक्तिगत जानकारी प्रदान करने से मना करने की सुविधा भी प्रदान करती है।

हम व्यक्तिगत जानकारी का उपयोग कैसे करते हैं?

1xBet बुकमेकर निम्नलखित उद्देश्य से ग्राहकों का डेटा इकट्ठा करता है:

किसी वास्तविक या संदिग्ध आपराधिक गतिविधि की जांच के लिए 1xBet India प्लेटफॉर्म इन जानकारियों को संग्रहीत करता है और इनका विश्लेषण करता है। यूज़र्स की व्यक्तिगत जानकारी के भंडारण से संबंधित सभी अधिकार 1xBet India की संपत्ति हैं।

व्यक्तिगत जानकारी तक पहुंच

आपके हमेशा हमारे पास मौजूद जानकारी अपनी जानकारी को देख सकते हैं। अपनी व्यक्तिगत जानकारी के विवरण की समीक्षा और अपडेट करने के लिए आप बस हमारी वेबसाइट पर लॉग इन करें और फिर अपने यूज़र नेम और पासवर्ड का उपयोग करके “मेरा अकाउंट” सेक्शन में “सेटिंग” पर जाएं और अपने डेटा में बदलाव करें। आप वेबसाइट पर उपलब्ध संपर्क सूत्रों का उपयोग करके किसी भी समय हमारी सहायता सेवा से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा 1xBet साइट अपने यूज़र्स को गलत जानकारी को सही करने का भी अधिकार देता है, साथ ही जरूरत समझ में आने पर आप इसे हटा भी सकते हैं।